देश

मतदान प्रतिशत और अन्य मुद्दों पर चुनाव आयोग से मिलेगा आईएनडीआईए का घटक दल

मतदान प्रतिशत और अन्य मुद्दों पर चुनाव आयोग से मिलेगा आईएनडीआईए का घटक दल

अधीर चौधरी ने कहा, चुनाव हारा तो राजनीति छोड़ दूंगा

पीएम मोदी के नामांकन के दिन शहर में लागू रहेगा रूट डायवर्जन, जानिये किन-किन मार्गों पर रहेगी पाबंदी

नई दिल्ली
 विपक्षी गठबंधन आईएनडीआईए घटक दलों के नेता लोकसभा चुनाव में हर चरण के बाद पूर्ण मतदान प्रतिशत के आंकड़े तत्काल जारी करने की मांग को लेकर आज चुनाव आयोग से मुलाकात करेंगे। विपक्षी नेता भाजपा के अपने चुनावी अभियान में कथित तौर पर धार्मिक प्रतीकों के इस्तेमाल का मुद्दा भी उठाएंगे।

भारतीय राष्ट्रीय विकासशील समावेशी गठबंधन (आईएनडीआईए) में 28 दल हैं। इसमें से अधिकांश दलों के नेता आज चुनाव आयोग से मिलेंगे। कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) सहित विपक्षी दलों ने चुनाव आयोग को अलग-अलग पत्र लिखकर पहले दो चरणों में मतदान के आंकड़ों को जारी करने में कथित देरी पर चिंता जताई है। चुनाव आयोग से मिलने के लिए समय मांगा है, आयोग ने इसकी पुष्टि की है।

उल्लेखनीय है कि पहले और दूसरे चरण के मतदान प्रतिशत को लेकर सवाल उठाए गए थे। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने मतदान प्रतिशत के पूरे आंकड़े तत्काल जारी नहीं करने पर चुनाव आयोग पर सवालिया निशान लगाया था। इसके साथ ही आईएनडीआईए के घटक दलों को पत्र लिखकर अपील की थी कि वे चुनाव आयोग से मतदान के पूरे आंकड़ों की तत्काल मांग करें।

लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में 65.68 प्रतिशत मतदान हुआ है। एक दिन पहले तक यह 64.58 फीसदी था। चुनाव आयोग ने कहा कि अब भी फील्ड लेवल मतदान अधिकारियों के पास से आंकड़े आ रहे हैं, इसलिए अंतिम आंकड़ा बदल सकता है। देश के 11 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के 93 लोकसभा सीटों पर 7 मई को मतदान हुआ था। सर्वाधिक 85.45 फीसदी वोटिंग असम में जबकि सबसे कम 57.55 फीसदी यूपी में हुई। लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 66.14 प्रतिशत और दूसरे चरण में 66.71 प्रतिशत मतदान हुआ है।

अधीर चौधरी ने कहा, चुनाव हारा तो राजनीति छोड़ दूंगा

कोलकाता
 मुर्शिदाबाद की बहरमपुर सीट से कांग्रेस उम्मीदवार और पांच बार सांसद रहे अधीर रंजन चौधरी ने बड़ी घोषणा की है। लोकसभा चुनाव में उनकी संभावित हार या जीत के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि अगर बहरमपुर से हार जाऊंगा तो राजनीति छोड़ दूंगा और बादाम बेचूंगा।

बंगाल में इंडी गठबंधन में ममता बनर्जी के शामिल नहीं होने संबंधी सवाल पर उन्होंने कहा कि तृणमूल की दिल्ली में किससे क्या बात हुई, यह उन्हें नहीं पता लेकिन उन्हें जानकारी मिली थी कि वे कांग्रेस को दो लोकसभा सीटों की भीख दे रहे थे, वह भी मालदा और मुर्शिदाबाद में नहीं। उन्होंने कहा कि वे किसी की दया पर नहीं जीतते हैं, उनका अपना जनाधार है। वे लोगों के लिए काम करते हैं। मतदाताओं को लगता है कि उन्हें जीताना चाहिए तो जिताते हैं।

माकपा के खिलाफ एक दौर में लंबी लड़ाई और अब उन्हीं के साथ मिल कर चुनाव लड़ने को लेकर उन्होंने कहा कि जब वाम दलों के खिलाफ लड़ाई हो रही थी तो उनके साथ अपराधियों का गिरोह था। आज वही अपराधी, तृणमूल कांग्रेस के दामाद बन गए हैं। इसलिए वामदलों का हाथ थाम कर उन अपराधियों के खिलाफ लड़ाई लड़ने की शुरुआत की है। उन्होंने कहा कि राजनीति में कोई किसी का स्थाई मित्र या शत्रु नहीं होता।

 

पीएम मोदी के नामांकन के दिन शहर में लागू रहेगा रूट डायवर्जन, जानिये किन-किन मार्गों पर रहेगी पाबंदी

वाराणसी
 प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 14 मई को वाराणसी से लोकसभा प्रत्याशी के रूप में नामांकन करेंगे। इसको लेकर कलेक्ट्रेट स्थित रायफल क्लब में विशेष व्यवस्था की गई है। वहीं यातायात विभाग ने रूट डायवर्जन लागू किया है, जो सुबह नौ से शाम 5 बजे तक प्रभावी रहेगा।

एडीसीपी ट्रैफिक राजेश पांडेय ने बताया कि पुलिस लाइन चौराहा से कचहरी आने वाले वाहनों को पुलिस लाइन चौराहा से गोलघर कचहरी चौराहा होते हुए नगर निगम की मल्टीलेवल पार्किंग तक जाने दिया जाएगा। मल्टीलेवल पार्किंग से आगे रास्ता पूरी तरह से बंद रहेगा। ऐसे वाहन जिन्हें गोलघर कचहरी चौराहा से सर्किट हाउस के सामने से होकर जेपी मेहता तिराहे की तरफ या भोजूबीर तिराहे की तरफ जाना है, वे सभी वाहन गोलघर कचहरी से अंबेडकर चौराहे से जेपी मेहता तिराहा से सेंट्रल जेल तिराहा होते हुए शिवपुर चुंगी से दाहिने गिलट बाजार होते हुए गंतव्य को जाएंगे।

जेपी मेहता तिराहा से किसी भी प्रकार के वाहन को दैत्रावीर, भोजूबीर तिराहा की तरफ नहीं जाने दिया जाएगा। इन वाहनों को सेंट्रल जेल रोड की तरफ डायवर्ट किया जाएगा, जो जेल तिराहे से शिवपुर चुंगी और गिलट बाजार चौराहा होकर अपने गंतव्य को जा सकेंगे। दूध सट्टी तिराहा से किसी भी प्रकार के वाहन को दैत्रावीर तिराहा, सर्किट हाउस या जेपी मेहता की तरफ जाने वाले वाहनों को भोजूबीर तिराहा से अर्दली बाजार तिराहा से पुलिस चौराहा की तरफ निकाला जाएगा।

मिंट हाउस आशियाना तिराहा होकर अंबेडकर चौराहा होते हुए कचहरी जाने वाले वाहनों को मिंट हाउस तिराहे से इंडिया होटल से शारदा मोटर ट्रेनिंग तिराहा से नेहरू पार्क तिराहा, इमलिया घाट होते हुए सेंट्रल जेल तिराहा की तरफ भेजा जाएगा।

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button