देश

ठाणे में लोकल ट्रेन से गिरकर नवविवाहित युवक ने खोए दोनों पैर, पीड़ित के अलावा परिवार में कमाने वाला कोई नहीं

ठाणे.

महाराष्ट्र के ठाणे जिले में चलती लोकल ट्रेन से गिरने के बाद एक 30 वर्षीय व्यक्ति ने अपने दोनों पैर खो दिए। सरकारी रेलवे पुलिस के एक अधिकारी ने रविवार को इसकी जानकारी दी। पीड़ित अपने परिवार में एकमात्र कमाने वाला था। यह घटना 22 मई को कलवा इलाके में घटी। व्यक्ति की पहचान जगन लक्ष्मण जांगले के तौर पर की गई है। वह दादर (मुंबई में) से कल्याण (ठाणे में) तक भीड़ भरी लोकल ट्रेन के कोच के दरवाजे के पास खड़ा था।

पीड़ित के भाई ने बताया कि दरवाजे के पास खड़े होने के कारण उसका संतुलन बिगड़ गया और वह नीचे पटरियों पर गिर गया। इस दौरान उसका पैर चलती ट्रेन के नीचे आ गया। एक अधिकारी ने बताया कि ठाणे के पास एक व्यक्ति के घायल अवस्था में पड़े होने की सूचना मिलने के बाद जीआरपी कर्मी मौके पर पहुंचे। उन्होंने पीड़ित को छत्रपति शिवाजी अस्पताल ले गए। फिलहाल यह पता नहीं चल पाया कि किसी ने फोन लूटने की वजह से पीड़ित को धक्का मारा और वह ट्रेन से बाहर गिर गया। अधिकारी ने बताया कि मामले की जांच जारी है। बता दें कि व्यक्ति कल्याण का निवासी है, और दादर में एक बुक डिपो में काम करता था। हाल ही में पीड़ित की शादी हुई थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button